मुँहासे कम करने के प्राकृतिक तरीके | Natural Methods To Reduce Acne in Hindi

0

बहुत से लोगों को लगता है कि चेहरे पर मुँहासे होने से उनका चेहरे बहुत ही गंदा दिखाई देता है, जो की सही भी है| मुँहासे के कारण आप का चेहरा तो सुन्दर नहीं दिखता है और आप में आत्मविश्वास की भी कमी होने लगती है| मुँहासे से छुटकारा पाने के लिए हम आपको कुछ हर्बल प्रयोग और कुछ घरेलु प्रयोग बताने जा रहे है क्युकी केमिकल प्रोडक्ट से आपको फायदा कम और नुकसान ज्यादा होता है |

Table of Contents

मुँहासे क्या होते है और ये क्यों होते है (What is acne and why does it happen in Hindi)-

इसको आप ऐसे समझ सकते है कि शारीर में पित्त और कफ के असंतुलित होने के कारण वसा ग्रन्थि (Sebecaus gland) में कुछ रुकावट आ जाती है। जिसके कारण त्वचा में उपस्थित छोटे-छोटे रोम छिद्र बन्द हो जाते हैं और त्वचा से निकलने वाला तैल रोम छिद्र (porel) में इकट्ठा होने लगता है जिसकी वजह त्वचा में गोल आकार के छोटे-छोटे दाने हो जाते हैं जिन्हें मुँहासे कहते हैं। ये तो आयुर्वेदिक कारण है पर सामान्य रूप से इसके होने के कई कारण हो सकते है जैसे अगर आप चेहरे को बहुत कम धोते है तो वातावरण में गन्दगी और प्रदुषण के कारण चेहरे पर गन्दगी जमने से भी चेहरे के रोम छिद्र बंद हो जाते है जिससे मुँहासे होते है | जरुरत से ज्यादा कॉफ़ी और चाय पीने से सेबम (sebum) बनता है जो अगर शारीर में ज्यादा – कम ओ तो ये भी मुँहासे बनाने में मदद करता है | ज्यादा शराब पीने, धुम्रपान करने, दवाईयों के साईड इफ़ेक्ट से भी मुँहासे हो सकते है | जब किसी के शारीर में हारमोंस का बदलाव होता है तो भी मुँहासे होते है |

मुँहासो को कम करने के लिए शहद का प्रयोग (Use of honey to reduce acne in Hindi ) –

प्राकृतिक तरीके से मुँहासे को कम करने के लिए शहद का प्रयोग बहुत लाभकारी है | शहद में कुछ कीटाणुनाशक गुण होते हैं । दिन में एक या दो बार अपने चेहरे पर शहद लगाने से ये चेहरे पर एक परत बनता है जो की मुहासों को और उसकी लालिमा को कम करता है |ये मुहासों को बढने से रोकता है और उपचार की प्रक्रिया को प्राकृतिक रूप से बढ़ता है |

मुँहासो को कम करने के लिए एलोवेरा का प्रयोग(Use of aloe vera to reduce acne in Hindi) –

एलोवेरा का प्रयोग भी मुहासों को प्राकृतिक रूप से कम करने में बहुत ही फायदेमंद होता है | इसमें पाए जाने वाले औषधीय गुणों के कारण ये मुहासों को बढ़ने से रोकता है और चेहरे के दाग को भी कम करता है | ये एक प्रकार का मॉश्चराइज का काम करता है जिससे मुहासों के साथ साथ त्वचा में चमक भी आती है| अगर एलोवेरा जैल को आप चेहरे पर लगाते है तो आपको एलोवेरा के सभी फायदे मिलेंगे |

मुँहासो को कम करने के लिए मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग(Use of Multani Mitti to reduce acne in Hindi) –  

प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग भी मुहासों को कम करने में किया जाता है |आप जानते ही है की कई प्रकार के फेस प्रोडक्ट में मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग किया जाता है | क्युकी इसमें प्राकृतिक रूप से बहुत सरे औषधीय गुण होते है जो चेहरे के लिए काफी लाभदायक होते है | इसके प्रयोग से चेहरे के ग्लो में बढ़ोतरी होती है और ये मुहासों को भी कम करता है और साथ ही दाग धब्बे को हटाता है |

मुँहासो को कम करने के लिए नारियल तेल और कपूर का प्रयोग (Using coconut oil and camphor to reduce acne) –

नारियल का तेल प्राकृतिक रूप से अपने आप में ही बहुत औषधीय गुण लिए हुए है, आप सिर्फ इसका भी प्रयोग कर सकते है| नारियल तेल लगाने से चेहरे में नमी आती है और ये मुहासों को कम करता है | अगर नारियल तेल में कपूर मिला कर इसका प्रयोग किया जाए तो ये बहुत ही असरदार होता है |

मुँहासो को कम करने के लिए गुलाबजल का प्रयोग (Use of rose water to reduce acne)-

गुलाब जल में निम्बू का रस और ग्लिसरीन एवं खीरे का जूस मिलाकर उपयोग करे| इस मिश्रण को बनाने के लिए 100 मि.ली.गुलाबजल, 50 मि.ली. नींबू का रस, 20 मि.ली.ग्लिसरीन और 20 मि.ली. खीरे का जूस मिलाकर तैयार करे और उसको रोज रात्रि में लगाकर सोये |लगाने से पहले चेहरे को अच्छी तरह धो ले | कुछ ही दिनों में मुहासे ख़तम होने लगेंगे |

मुँहासो को कम करने के लिए नीम का प्रयोग (Use of neem to reduce acne)-

नीम में बहुत सरे आयुर्वेदिक गुण मौजूद होते है और ये बहुत ही लाभकारी है | मुहासों में नीम का प्रयोग भी बहुत लाभकारी होता है |नीम के पत्तो को पीसकर मुहासों पर लगाने से बहुत लाभ होता है | आप चाहे तो नीम के पत्तो को पीसकर उसमे हल्दी पावडर मिलाकर भी उपयोग कर सकते है और साथ में चन्दन पावडर मिला दे तो इसका फायदा कई गुना बढ़ जाता है | इस पेस्ट को रोजाना ३० मिनिट तक लगाने के बाद चेहरे को साफ़ कर ले | कुछ ही दिनों में मुहासे गायब होने लगेंगे |

मुँहासो को कम करने के लिए हल्दी का प्रयोग (Use of turmeric to reduce acne)-

हल्दी में प्रकृति रूप में एन्टीबैक्टिरीयल और एन्टी इंफ्लैमटोरी गुण पाये जाते हैं। जो की एक महत्वपूर्ण औषधीय गुण है | हल्दी में गुलाब जल और चन्दन पावडर मिलकर लगाने से मुहासों में बहुत लाभ होता है और चेहरा भी मुलायम होता है |

मुँहासो को कम करने के लिए दूध से बने चीजों का सेवन कम करना (To reduce acne, reduce the intake of milk products) –

दूध से बने प्रोडक्ट जैसे मिठाई और अन्य प्रौक्ट का इस्तेमाल कम करना चाहिए | क्युकी इससे तैल ग्रन्थी ज्यादा एक्टिवेट हो जाती है और मुहासों को जन्म देती है |

मुँहासो को कम करने के लिए मांस का सेवन ना करें (Do not eat meat to reduce acne)-

मासाहार को आयुर्वेद में वर्जित किया गया है क्युकी इससे शारीरिक फायदा कम और नुकसान ज्यादा होता है |मांस बहुत ज्यादा अम्लीय होता है और इसमें उच्च प्रोटीन होता है जो पचने में कठिन होता है जिसके कारण मुहासे बनते है |

मुँहासो को कम करने के लिए विटामिन ‘सी’ और विटामिन ‘डी’ युक्त हरी सब्जी और फल का उपयोग (Use of green vegetables and fruits containing vitamin ‘C’ and vitamin ‘D’ to reduce acne) –

आपको फल और सब्जी का चयन ऐसा करना चाहिए जिसमे विटामिन ‘सी’ और विटामिन ‘डी’ की मात्र ज्यादा हो | इनसे मुहासों को कम करने में मदद मिलती है |

मुँहासो को कम करने के लिए अन्य उपाय (Other ways to reduce acne) –

  • सुबह खली पेट गर्म पानी पिए |
  • दिन में 10-१२ गिलास पानी पिए |
  • रात में हल्का भोजन ले | उसके बाद थोडा टहले |
  • रात में समय से सोये और अछि नींद ले |
  • जंग फ़ूड का सेवन कम करे या हो सके तो बंद कर दे |
  • ज्यादा हेवी मेकअप न करे जिससे आप के चेहरे के छिद्र बंद हो जाए |

Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here